Dil Se Khabri News

ISRO Chandrayaan 3 : जानिए लॉन्च और मिशन से जुड़े मुख्य Updates

Chandrayaan 3 इस साल 2023 में भारत एक नया कीर्तिमान रचने जा रहा है। भारतीय वैज्ञानिकों ने आज 14 जुलाई 2023 को दोपहर 2 बजकर 35 मिनट पर श्रीहरिकोटा से चंद्रयान-3 को लॉन्च कर दिया। सिर्फ भारत ही नहीं बल्कि पूरी दुनिया की नजर इस मिशन पर टिकी हुई है। इस मिशन के सफल होने पर भारत का लॉन्चर 25 अगस्त तक चांद के उस हिस्से पर उतरेगा जहां अभी तक किसी भी देश का कोई उपकरण नहीं पहुंचा है। चाँद के उस हिस्से का नाम शेकलटन क्रेटर है। इसी वजह भारत के इस मिशन पर पूरी दुनिया की निगाहें हैं।

Science Of The Moon थीम पर आधारित है Chandrayaan 3 का यह मिशन –

 

Chandrayaan-3 from Earth to Moon

 

84 लाख किलोमीटर का सफर कैसे तय करेगा Chandrayaan 3 :-

लांच के शुरुआती समय में इसकी रफ्तार 1627 किमी प्रति घंटा होगी। फिर लॉन्च के 108 सेकंड बाद जब लॉन्चर 45 किमी की ऊंचाई पर पहुंचेगा तब इसका लिक्विड इंजन स्टार्ट होगा और रॉकेट की रफ्तार 6437 किमी प्रति घंटा हो जाएगी। उसके बाद आसमान में 62 किमी की ऊंचाई पर पहुंचने के साथ ही दोनों बूस्टर रॉकेट से अलग हो जायेंगे और रॉकेट की रफ्तार 7000 किमी प्रति घंटा तक पहुंच जाएगी । 

Travel Distance Of Chandrayaan-3

उसके बाद करीब 92 किमी की ऊंचाई पर Chandrayaan 3 की हीट शील्ड अलग हो जाएगी और 115 किमी की दूरी पर इसका लिक्विड इंजन भी अलग हो जायेगा और क्रॉयोजनिक इंजन काम करना शुरू कर देगा । उस समय राकेट की रफ्तार 16000 किमी/घंटा तक हो जाएगी। इसके बाद इसका क्रॉयोजनिक इंजन इसे 179 किमी तक ले जायेगा और इसकी रफ्तार होगी 36968 किमी/घंटा और इस तरह धरती से चांद की 3.84 लाख किलोमीटर की दूरी का यह सफर 40 दिन में पूरा हो जायेगा।

Total Cost Of Chandrayaan-3 Mission

 

चंद्रयान-3 को LVM-3 रॉकेट लांचर की मदद से लॉन्च किया गया। लैंडर के सफलतापूर्वक चांद की सतह पर लैंड के बाद चाँद की सतह की सारी जानकारी भारतीय वैज्ञानिको को मिल सकेगी। चंद्रयान-3 के लैंडर को अत्याधुनिक उपकरणों से लेस किया गया है और इस अभियान की कुल लगत 615 करोड़ रुपए है।

अधिक जानकारी के लिए क्लिक करे :https://www.isro.gov.in/Chandrayaan3_Mission_LiveStreaming.html

Dil Se Khabri के और पोस्ट यहाँ देखे : https://dilsekhabri.com/chandrayaan-3/

 

Exit mobile version